Rashifal राशिफल
Raj Yog राज योग
Yearly Horoscope 2021
Janam Kundali कुंडली
Kundali Matching मिलान
Tarot Reading टैरो
Personalized Predictions भविष्यवाणियाँ
Today Choghadiya चौघडिया
Anushthan अनुष्ठान
Rahu Kaal राहु कालम

2021 घटस्थापना

date  2021
Ashburn, Virginia, United States

घटस्थापना

 जन्म कुंडली

मूल्य: $ 49 $ 14.99

 ज्योतिषी से जानें

मूल्य:  $ 7.99 $4.99

घटस्थापना - अनुष्ठान और महत्व

नवरात्रि सबसे बहुप्रतीक्षित हिंदू त्यौहार है जो नौ दिनों तक अत्यंत भक्ति और श्रद्धा के साथ मनाया जाता है। एक वर्ष में चार नवरात्रि होते हैं जिनमें शारदीय नवरात्रि और चैत्र नवरात्रि का बहुत अधिक महत्व है। कई अनुष्ठान और परंपराएं हैं जो इन दोनों नवरात्रि समारोहों के लिए समान हैं। ऐसा ही एक रिवाज है नवरात्रि घटस्थापना। शारदीय घटस्थापना, जैसा कि नाम से पता चलता है, इसमें घट या कलश की स्थापना होती है। यह अनुष्ठान नौ दिवसीय उत्सव की शुरुआत का प्रतीक है।

नवरात्रि कलश स्थापना शुभ मुहूर्त

राहू काल का समय 09:17 से 10:42 तक इस समय घटस्थपना से बचे।
अभिजीत मुहूर्त कलश स्थापना के लिए अति उत्तम होता है। जो मध्यान्ह 11:44 से 12:29 तक होगा।
चौघड़िया के अनुसार नवरात्री घट स्थापना के लिए शुभ मुहूर्त 07:06 से 7:30 बजे।
आप के स्थानीय समयनुसार कुछ परिवर्तन हो सकता है उपयुक्त मुहूर्त के लिये अपने शहर का चौघड़िया देखे

घट स्थापना का शुभ मुहूर्त देखने के लिए देखिए आज का चौघड़िया

Aaj ka Choghadiya Muhurat in Hindi

आज का चौघडिया

अमृत, शुभ, लाभ, चर, उदवेग, काल एवं रोग चौघडिया

 

नवरात्रि घटस्थापना - महत्व एवं पूजा अनुष्ठान

घटस्थापना नवरात्रि के उत्सवों में एक अत्यंत महत्वपूर्ण अनुष्ठान है क्योंकि घट/कलश या पवित्र बर्तन नवरात्रि के दौरान पूजा की प्रमुख वस्तु होती है। इस पवित्र बर्तन में देवी शक्ति को नौ दिनों के लिए आमंत्रित किया जाता है और इस बर्तन की पूजा नौवें दिन तक की जाती है। हमारे पवित्र ग्रंथों में घटस्थापना विधि के लिए कुछ नियमों और प्रक्रियाओं को निर्धारित किया है और इसमें कोई बदलाव या गलत समय पर करने से माँ दुर्गा का प्रकोप हो सकता है। इसलिए, यह महत्वपूर्ण है कि घटस्थापना पूजा सबसे उपयुक्त समय पर की जाए।

नवरात्रि घटस्थापना शुभ मुहूर्त

  • सबसे शुभ नवरात्रि घटस्थापना मुहूर्त उस दिन का वह समय होता है जब प्रतिपदा तिथि विद्यमान हो या दिन का पहला एक तिहाई समय हो।
  • यदि किसी तरह, यह समय उपलब्ध नहीं है या संभव नहीं है, तो अभिजीत मुहूर्त घटस्थापना करने के लिए एक और शुभ समय होता है।
  • भक्तों को वैधृति योग और नक्षत्र चित्रा समय से बचना चाहिए लेकिन ये समय निषिद्ध नहीं हैं।
  • अमावस्या या रात के समय में घटस्थापना करना निषिद्ध है।
  • दिन की शुभ घड़ी जानने के लिए आप चौघड़िया देख सकते हैं।

नवरात्रि के पहले दिन देवी पूजा - माँ शैलपुत्री

hindi
english