Rashifal राशिफल
Raj Yog राज योग
Yearly Horoscope 2022
Janam Kundali कुंडली
Kundali Matching मिलान
Tarot Reading टैरो
Personalized Predictions भविष्यवाणियाँ
Today Choghadiya चौघडिया
Anushthan अनुष्ठान
Rahu Kaal राहु कालम

ग्रह की स्थिति

ज्योतिष में, ग्रहों की स्थिति (एफेमरिज) एक समय में किसी बिन्दू पर आकाश में प्राकृतिक एवं कृत्रिम वस्तुओं की स्थिति प्रदान करता है।

shadow

दिए गए दिनांक पर ग्रहों की स्थिति

  

  
shadow

वर्तमान ग्रहों की स्थिति


ज्योतिष द्वारा ग्रहों की स्थिति

प्राचीन काल से ग्रहों की स्थिति को तालिका के रूप में छाप कर दिखाया जाता है। जो कि समय-समय पर बदलती रहती हैं। इस तरह ‘पत्रिका’ आमतौर पर एक ही दिन तक रहती है जो कि अगले ही दिन नये मायनों के साथ बदल जाती है। आजकल, पंचांग की गणना आधुनिक गणितिय तरीके से पृथ्वी के चारों ओर घूमने वाले ग्रहों की स्थिति के आधार पर की जाती है। छपे हुऐ पंचांग को अभी भी संसार के कुछ हिस्सों में इस्तेमाल किया जाता है जहां कम्प्यूटर आम जनता के लिए उपलब्ध नहीं हैं।

पंचांग सही उतार-चढ़ाव के अनुसार गोलाकार ध्रवीय समन्वय प्रणाली का उपयोग कर ग्रहों की स्थिति को सूचीबद्ध करता है। इन निर्देशांक का उपयोग तारों के मानचित्र व दूरबीन बनाने में किया जाता है। ज्योतिषी (खगोलशास्त्री) इन निम्न घटनाओं को जानने के लिए बेहद उत्साहित रहते हैं, उदाहरण के लिए सूर्य व चन्द्र ग्रहण, ग्रहों की वक्री स्थिति, नक्षत्र का समय आदि । पंचांग ज्योतिष हमें जन्म कृण्डली के बारे में जानने में मदद करता है क्योंकि यह हमें वर्तमान में ग्रहों की स्थिति व मानवीय जीवन में उसके प्रभाव के बारे में बताता है।

पंचांग आपको तिथि के अनुसार ग्रहों की स्थिति प्रदान करता है जिससे आप अपने ग्रहों के साथ अपने सितारों, प्राकृतिक उपग्रहों व आकाशगंगाओं का वर्णन प्राप्त कर सकते हैं। यह पंचांग आम तौर पर आने वाली सदियों को शामिल करता है। यह आकाशीय प्रक्रिया के क्षेत्र में उपलब्ध विभिन्न वास्तविक समय की गणना की सहायता से किया जाता है। हालांकि बहुत से क्षेत्रों में सही शोध की कमी की वजह से आधुनिक पंचांग को पर्याप्त रूप से समझाया नहीं जा सकता। ग्रहों की स्थिति आकाशीय पथ प्रदर्शन साफ्टवेयर बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है जो बदले में अंतरिक्ष यान पथ प्रदर्शन के साथ हमारी सहायता करता है और वैश्विक स्थिति निर्धारण प्रणाली अर्थात् बैकअप विकल्प के रूप में काम कर सकता है अर्थात जीपीएस। वैज्ञानिक उद्देश्यों के लिए, आज ग्रहों की स्थिति या अभी ग्रहों की स्थिति महत्वपूर्ण है क्योंकि यह हमें समय पर किसी भी बिन्दू पर धूमकेतु या क्षुद्रग्रहों की स्थिति के बारे में आश्वयक जानकारी प्रदान करती है।

Vedic ephemeris Use in astrology

In astrology, Vedic Ephemeris is of great value and use as it helps in understanding today’s Grah position and planetary transit (today’s Gochar). Grah Gochar today is one of the main aspects to determine the outcome of a horoscope based on the current planetary positions, their future trajectory and velocity. The Gochar of Jupiter and Saturn is considered very important. Thus while analyzing the today gochar chart astrologers check Jupiter degree today and Grah Sthiti today for Saturn. The accuracy of today’s Gochar or planetary position information allows them to ascertain the impact of stars and celestial bodies on an individual.

Check Ephemeris 2021 to know the current planetary position on a given date, which in turn helps you with the positional description of planets along with their respective stars, natural satellites and galaxies. The planetary position astrology can offer information about today’s gochar and current planetary positions and predictions for the future. If you check current planetary positions by date of birth and time, then you may get accurate details for planetary positions and planetary transits report for your birth date.

2021 Ephemeris todays planetary position, you may track the movement of comets and asteroids that are erratic in behaviour. However, it is advisable to Talk to an Expert Astrologer as some phenomena may not be adequately explained by today's Ephemeris due to the disruption caused by loosely researched asteroids.

hindi
english