2020 नव वर्ष

date  2020
Jaipur

नव वर्ष
Panchang for नव वर्ष
Choghadiya Muhurat on नव वर्ष

नए साल का दिन

नया साल, जैसा कि नाम से पता चलता है, वर्ष की शुरुआत का प्रतीक है। नए साल का दिन वर्ष का पहला दिन होता है और 1 जनवरी को मनाया जाता है यानी जूलियन कैलेंडर के साथ-साथ आधुनिक ग्रेगोरियन कैलेंडर का पहला दिन। 1 जनवरी को नया साल मनाया जाएगा और इस दिन दुनिया भर में राष्ट्रीय अवकाश होता है। ग्रेगोरियन कैलेंडर दुनिया के प्रमुख हिस्सों में सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाने वाला कैलेंडर है। इससे पहले आए जूलियन कैलेंडर और रोमन कैलेंडर के अनुसार भी 1 जनवरी को नया साल मनाया जाता है। प्रारंभ में, अर्थात् मध्य युग के दौरान नए साल की तारीखें और दिन हर एक के अनुसार अलग-अलग होते थे। हालाँकि, 1582 के बाद, ग्रेगोरियन कैलेंडर को अपनाने और पुरानी और नई तारीखों में बदलाव के साथ, इस दिन की शुरुआत जिस दिन हुई थी, वह पहली जनवरी तय की गई थी।

यह भी पढ़ेंः क्रिसमस कैसे मनाया जाता है?

कहां मनाया जाता है नया साल?

दुनिया भर में नए साल की पार्टी और समारोह पूरे विश्व में मनाया जाता है और लोग बहुत जोश और उत्साह के साथ नए साल का स्वागत करते हैं। नए साल की पूर्व संध्या को वर्ष के अंतिम दिन, अर्थात् 31 दिसंबर को आधुनिक ग्रेगोरियन कैलेंडर के रूप में मनाया जाता है। यह 1 जनवरी से एक रात पहले होता है, जो मूल रूप से नए साल की शुरुआत का जश्न मनाने का दिन है। नए साल की पूर्व संध्या को सेंट सिल्वेस्टर दिवस या पुराने वर्ष के दिन के रूप में भी जाना जाता है। लोग नए साल की पार्टी करते हैं और अपने परिवार और दोस्तों से मिलकर नृत्य और संगीत के साथ नए साल का स्वागत करते हैं। नए साल की पूर्व संध्या का जश्न मध्यरात्रि से 1 जनवरी की तारीख में बदल जाता है। सबसे पहले समोआ और किरिबाती - प्रशांत द्वीप के देशों में नए साल का स्वागत किया जाता है।

हिंदू नव वर्ष क्या है?

भारत में नए साल का जश्न और दिन एक क्षेत्र से दूसरे क्षेत्र के अनुसार भिन्न होते हैं और यह हिंदू कैलेंडर के अनुसार मनाया जाता है। हिंदू कैलेंडर के अनुसार, नया साल चैत्र महीने में मनाया जाता है और इसे गुड़ी पड़वा के नाम से जाना जाता है। गुजराती नव वर्ष दिवाली के समय मनाया जाता है। हालाँकि, आजकल सभी लोग साल के पहले दिन, यानी पहली जनवरी को नया साल मनाते हैं।

नया साल कैसे मनाया जाता है?

नया साल दुनिया भर में सबसे ज्यादा मनाया जाने वाला सार्वजनिक अवकाश है। पूरी दुनिया में लोग नए साल का स्वागत करते हैं और इसे अपने तरीके से मनाते हैं। दुनिया के हर हिस्से में नए साल के जश्न को यादगार बनाने का अपना अलग तरीका है। नए साल के उत्सव की तैयारी दिसंबर के अंत तक शुरू हो जाती है और हर कोई नए साल की पार्टी के मूड में आ जाता है।

पहले के दिनों में, नए साल का दिन केवल 1 जनवरी को मनाया जाता था और इसका स्वरूप एक धार्मिक उत्सव था। लेकिन 1900 के दशक से, नए साल का स्वागत करने का जश्न एक रात पहले यानी 31 दिसंबर से शुरू होता है और इसे नए साल की पूर्व संध्या के रूप में जाना जाता है। यह अब एक प्रकार का त्योहार बन गया है जब दोस्त और परिवार खुशियां और जश्न मनाने के लिए एकत्रित होते हैं। आतिशबाजी नए साल के जश्न का एक और महत्वपूर्ण पहलू है। घड़ी में 12 बजते ही नए साल की पूर्व संध्या पर आकाश में सुंदर आतिशबाजी की जाती है। कई लोगों द्वारा वाॅच नाइट सर्विसेज का भी आयोजन किया जाता है।

नए साल के दिन समारोह में परेड, पारंपरिक दावत, संगीत, फुटबॉल, मेल-मिलाप, हैप्पी न्यू ईयर ग्रीटिंग्स और परिवार और दोस्तों द्वारा उपहारों का आदान-प्रदान शामिल है।

नए साल के साथ जुड़ी अनोखी परंपराएं क्या हैं?

  • यूरोप के कुछ हिस्सों में, नए साल का स्वागत निजी आतिशबाजी के साथ किया जाता है।

  • पोलर बियर प्लंज एक और दिलचस्प परंपरा है जो नए साल के जश्न के साथ जुड़ी हुई है। संयुक्त राज्य अमेरिका, ब्रिटेन, नीदरलैंड, कनाडा और आयरलैंड गणराज्य के कुछ लोग समुद्र तट के आसपास इकट्ठा होते हैं और आने वाले वर्ष का जश्न मनाने के लिए पानी में कूदते हैं।

  • साइप्रस और ग्रीस के देशों में, आधी रात को पूरा परिवार रोशनी बंद कर देता है और उसके बाद तुलसी के पाई (वासिलोपिता) को काटा जाता है, जिसमें एक सिक्का होता है। यह माना जाता है कि जिस किसी को भी उसके टुकड़े में यह सिक्का मिलता है, उसका भाग्य पूरे साल के लिए अच्छा होगा।

  • स्पेन में, 12 अंगूरों की परंपरा एक दिलचस्प परंपरा है। इस रिवाज के अनुसार, आधी रात को घड़ी के 12 बजने से पहले लोगों को 12 अंगूरों को हाथ में रखना होगा। एक बार में एक अंगूर खाना पड़ता है। माना जाता है कि जो लोग आवश्यक समय में सभी अंगूर खाते हैं उनके लिए अगला साल सौभाग्य और खुशियां लेकर आयेगा।

  • आइस हॉकी स्विट्जरलैंड की नए साल पर मनाई जाने वाली एक अनोखी परंपरा है।

  • फ्रांस में, इस दिन हवाओं की दिशा अगले वर्ष के लिए मौसम की भविष्यवाणी को निर्धारित करती है। उत्तर की ओर बहने वाली हवा पूरे वर्ष में अच्छे मौसम का संकेत देती है, पूर्व की ओर बहने वाली हवा का अर्थ है फलों की अच्छी पैदावार, पश्चिम की ओर बहने वाली हवा का मतलब पशुधन और मछलियों के लिए अच्छा समय होता है जबकि दक्षिण की ओर बहने वाली हवा का संकेत फसल खराब होना होता है।

  • नए साल का सबसे भव्य जश्न अमेरिका में मनाया जाता है। इस देश में, वर्ष के इस समय को प्रियजनों के साथ बिताने की परंपरा है। पटाखे, मेल-मिलाप और पार्टी यहां की सबसे महत्वपूर्ण प्रथाऐं बन गई हैं।

अवश्य पढ़ेंः वार्षिक राशिफल (विशेषज्ञ ज्योतिषियों द्वारा भविष्य की भविष्यवाणी)

नए साल के जश्न का महत्व क्या है?

नव वर्ष न केवल अगले वर्ष की शुरुआत को चिह्नित करता है, बल्कि इसका तात्पर्य यह है कि नकारात्मक अतीत को छोड़ दें और नई और सकारात्मकता के साथ चीजों की शुरुआत करें। लोग एक दूसरे से मिलते हैं और एक-दूसरे को नव वर्ष की शुभकामनाएं देते हैं और खुशी और सकारात्मकता दुनिया भर में सभी को आकर्षित करती है। यह वर्ष का वह समय होता है जब सभी करीबी और प्रिय लोग एक साथ इस दिन का आनंद लेते हैं।

आशा है कि यह नया साल सभी के जीवन में सौभाग्य, प्रेम और ढेर सारी खुशीयां लाएगा। आप सभी को एक समृद्ध और नये साल 2020 की हार्दिक शुभकामनाऐं

hindi
english